अश्लीलता को बढ़ावा दे रहा था TikTok ऐप, कोर्ट के आदेश के बाद गूगल ने प्ले स्टोर से हटाया


#1

लोकप्रिय विडियो मेकिंग ऐप TikTok को गूगल और ऐपल ने अपने प्ले स्टोर से हटा दिया है। मद्रास हाई कोर्ट ने इस ऐप पर रोक लगाने का आदेश दिया था। मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंचा, वहां भी यह रोक जारी रही। हालांकि, जिन लोगों ने पहले ही TikTok ऐप को डाउनलोड कर रखा है, वह अपने स्मार्टफोन पर इसका इस्तेमाल कर सकेंगे।

एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए मद्रास हाई कोर्ट ने चिन्ता जाहिर की थी। इसने अपने फैसले में कहा था कि यह ऐप बच्चों पर बुरा असर डालते हुए पोर्न को बढ़ावा दे रहा है और इससे यूजर्स में यौनिक हिंसा बढ़ रही है।

टिकटॉक ऐप चीन की इंटरनेट कंपनी बाइटडांस टेक्नोलॉजी का एक प्रोडक्ट है। इसके 50 करोड़ से अधिक यूजर हैं, जिनमें भारत की हिस्सेदारी 39 फीसदी है।