कांग्रेस राफेल-राफेल चिल्लाकर बोफोर्स के दाग धोना चाहती है?


#1

संसद में पेश की गई कैग की रिपोर्ट में दूध का दूध, पानी का पानी हो गया है। यह साबित हो गया है कि राफेल का सौदा भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने कांग्रेस की सरकार से बेहतर किया है। साथ ही यह भी साबित हुआ है कि यह सौदा कांग्रेस के काल से सस्ता है। हालांकि, कांग्रेस पार्टी राफेल-राफेल क्यों चिल्ला रही है? क्या समझना कोई मुश्किल काम है? कांग्रेस जबरन यह साबित करना चाहती है कि राफेल की खरीद में घोटाला हुआ है। कांग्रेस पार्टी को यह संभवतः नहीं पता कि गला फाड़कर राफेल-राफेल चिल्लाने से बोफोर्स के दाग नहीं धुलेंगे।

क्या आपको भी लगता है कि कांग्रेस राफेल-राफेल चिल्लाकर बोफोर्स के दाग धोना चाहती है?