बड़े दिल वाला भाई


#1

भाई जी, जय जियो! जियो और जीने दो!
मुकेश अंबानी सही वक्त पर, सारे मनमुटाव किनारे रख कर छोटे भाई की मदद के लिए सामने आये और अनिल जेल जाने से बच गए। एरिक्सन को ब्याज के साथ अनिल अंबानी ने 550 करोड़ रूपये लौटा दिए, सुप्रीम कोर्ट द्वारा तय की गयी डेडलाइन से एक दिन पहले यह काम हुआ और इसके लिए उनकी मदद की उनके बड़े भाई ने। बड़े भाई की इस मदद के लिए अनिल ने मुकेश अंबानी और नीता अंबानी का सार्वजनिक रूप से धन्यवाद दिया। वाह भाई, भाई हो तो ऐसा।

वैसे राफेल के मुद्दे पर अनिल काफी समय से राहुल गांधी के निशाने पर हैं और उनके ऊपर मोदी जी से तीस हजार करोड़ का काम हासिल करने का आरोप है। जबकि हकीकत है कि तीस हजार करोड़ के काम का बंटवारा कुल 80 कंपनियों में हुआ है, यानि अनिल अंबानी की कंपनी उन 80 में से एक है। हो सकता है कभी बड़े अम्बानी राहुल जी को हड़का दें तो मंच से छोटे का नाम लेना भी बंद कर दें, एक अनुमान यह भी है कि काफी समय से चल रहे इस लोन वाले मामले से उबरने के बाद अब अनिल अंबानी की कंपनी अपनी सार्वजनिक बेइज्जती कर रहे राहुल गाँधी के खिलाफ कोई दमदार बयान जारी करे।

जय जियो!


#2

अगर राहुल गांधी के अनुसार मोदी ने अनिल अंबानी को 30,000 करोड़ रुपये दिए थे तो बड़े भाई से इतनी छोटी रकम लेने की नौबत क्यों आ गयी?


#3

रागा की दादी ने कुछ बंडल कभी धीरू भाई को दिए थे,बोल कर की मेरे परिवार का ध्यान रखना।छोटा वाला भाव नहीं देता इसीलिये निशाने पर है लेकिन कोई नहीं,अब रागा को पता चल गया होगा की बड़े को कभी गुस्सा आ गया तो बुरा होगा।